जे एन वी वयनाट मानव संसाधान विकास मंत्रालय स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग भारत सरकार के अधीन में कार्यरत केरल के चौदह्वां और भारत के पांच सौ पहत्तर विद्यालयों में एक है । इसकी स्थापना 22 जून 2005 को हुई और 31/05/2009 तक एन एम डी सी के गुदाम में कार्य किया । इस अस्थाई मकान में आवश्यक मरम्मत कार्य पूर्व स्वास्थ्य कार्य मंत्री श्री. के के राम चन्द्रन मास्टर के कृपा दान ३४ लाख रुपये से संपन्न कराया गया । वर्ष २००५-०६ में ८० छात्रछात्राओं को दाखिल कराया गया था और बाद के वर्षों में चालीस छात्रों को प्रवेश दिया गया । यह विद्यालय केद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से संबन्धित है और संबन्ध संख्या ९४००१४ है । इस विद्यालय के प्रथम चरण के निर्माण कार्य केलिए ८२८.२८ लाख रुपए्खर्च किए गए और जून १ २००९ से प्रकृति के अनुपम वरदान जिसके चारों ऑर पहाड और बीच में से होकर कलकल करते हुए झरना बहता जा रहा हैं,कार्य करने लगे हैं । विद्यालय मंदिर का उदघाटन सितंबर ८, २०१० को वीडियो सम्मेलन के जरिए वि`ज्यान भवन नई दिल्ली में राष्ट्रीय सलाहकार समिति की अध्ययक्षा श्रीमती सोनिया गांधी के करकमलों द्वारा किया गया । तदवसर पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय के पूजनीय मंत्री श्री कबिल सिबल ,स्कूल शिक्षा साक्षरता विभाग के सचिव ,श्री आशु वैरा नवोदय विद्यालय समिति के माननीय आयुक्त भी उपस्थित थे । यह विद्यालय कालिकट बैगलूर राजकीय मार्ग में कालिकट से लगभग ६० कि-मी दूरी पर हैं । इस विद्यालय के अधीन पच्चीस एकड की भूमी है जो पूक्कोड डायरी सैट ,वैत्तिरी में है ।विद्यालय का दूरभाष नंबर ; ०४९३६ २५६६८८ , ०४९३६२५६६९९  

विद्यालय स्थापना - २००५ विद्यालय का पूरा पता - जवाहर नवोदय विद्यालय , पूक्कोड लक्किडी ( पी ओ ) वैत्तिरी ,वयनाट ( जिला ) केरल -६७३५७६ दूरभाष नंबर ,फाक्स नंबर - ०४३९६ २५६६८८ , ०४९३६ -२५६६९९ ( फाक्स ) ई मेल - वेब साईट - डब्लू डब्ल्यू डब्ल्यू .जे एन वी वैनाट .कोम प्राचार्य का नाम - श्रीमती सी वी शांति उपप्राचार्य का नाम - श्री पी वी वर्गीस विद्यालय संचालन समिति के अध्यक्ष का नाम ः श्री केशवेद्र कुमार आई . ए. एस व पूरा पता सिविल स्टेशन कलपेटा दूर भाष नबर , फाक्स नंबर - ०४९३६ २०२२३० ०४९३६ २०२२२० ( फाक्स )

  • जवाहर नवोदय विद्यालय मुख्यतः ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले बच्चों केलिए स्थापित सह-शिक्षा व आवासीय विद्यालय है ,जिनके उद्देश्य निन्मांकित है ;
    १. ग्रामीण क्षेत्रों के प्रतिभावान बच्चों को संस्कृति के सशक्त मूल्यों ,मानव मूल्यों ,पर्यायवरण जागरूकता ,साहसिक गतिविधियां एवं शारीरिक शिक्षा के साथ साथ अति उत्तम आधुनिक शिक्षा उपलब्ध कराना
    २. नवोदय विद्यालय में बच्चों को कक्षा छह में प्रवेश दिया जाता है तथा कक्षा बारह तक शिक्षा प्रदान की जाती हैं अब विद्यार्थियों को कक्षा-९ में प्रवेश देने की व्यवस्था है ।
    ३. यह सुनिश्चित करना कि नवोदय विद्यालय के सभी विद्यार्थी तीन भाषाओं में दक्षता का एक उचित स्तर प्राप्त कर कर सकें